ज्ञान और प्रेम

ज्ञानी कभी परमात्मा को नहीं जान सकता। सिर्फ प्रेमी ही परमात्मा को जान सकता है। ज्ञानी तो उलझा रहता है शास्त्रों को कंठस्थ करने में, तर्क, वितर्क में और अपनी बौद्धिकता में। प्रेम द्वार है परमात्मा का। ज्ञानी प्रेम से नहीं, शास्त्रों से परमात्मा को जानना चाहता है। परमात्मा को जानना है मन के पार…

धर्म और संस्कृति

धर्म वह है जिसने सबको धारण कर रखा है। धर्म वो मौलिक सत्य का नाम है जिसने सबको संभाला हुआ है। धर्म और संस्कृति दोनों भिन्न हैं। धर्म से संस्कृति का निर्माण नहीं होता। धर्म तो तब अनुभव में आता है जब हम सारी संस्कृतियों का त्याग कर देते हैं। इस पूरे ब्रह्मांड को जिसने…

ध्यान में यात्रा कैसे शुरू करें?

ध्यान और प्रेम दो ही रास्ते हैं परमात्मा तक पहुंचने के। ध्यान का रास्ता बड़ा सूखा है। उस पर तुम्हें महावीर मिलेंगे। उस पर तुम्हें बुद्ध बैठे मिलेंगे। मगर कोई पक्षी की गूंज सुनाई न पड़ेगी। ध्यान का रास्ता मरुस्थल जैसा है। ध्यान इसलिए बहुत कम लोगों को रास आता है। कुछ ऐसे भी लोग…

मुगले आज़म

जीवन में Dedication आपको निश्चय ही सफलता दिलाता है। K.Asif की Mughal-e-Azam किसने नहीं देखी होगी। उसके कई गाने- प्यार किया तो डरना क्या, मोहब्बत जिंदा रहती है आज भी हमारे कानों में गूंजते हैं। K.Asif ने इतनी लग्न से इस फिल्म को बनाया कि कलाकारों के costume सिलवाने के लिए कारीगर दिल्ली से लाए…

चमत्कार

होश पूर्ण जीवन आपके जीवन में कैसे चमत्कार करता है उसको एक कहानी से समझते हैं। एक राजा था और उसके दो मंत्री थे। एक मंत्री का मानना था कि जीवन में पैसे कमाने के लिए पैसा ही चाहिए। पैसा ही पैसे को लेकर आएगा। और दूसरा मंत्री बहुत बुद्धिमान था और उसके जीवन में…

2 Minutes Break

Every child is born pure, virgin & blissful. As the child grows older he starts identifying himself with Mind, body, emotions & start losing his true nature. This results in attracting innumerable miseries in life. Because the child is now detached from his true nature ,a feeling of doership arises in him. This feeling of…

भाग्य

भाग्य के सिद्धांत को गलत तरीके से समझा और देखा गया है। भाग्य का सिद्धांत कहता है सब अपने आप हो रहा है। इसका मतलब यह नहीं कि आप निष्क्रिय हो जाए। भाग्य का सिद्धांत कहता है कि आप अपने आत्यंतिक केंद्र पर पहुंच जाएं। आप जान लें कि आप कौन हैं। भाग्य का सिद्धांत…

99 का चक्कर

एक बार की बात है एक राजा अपने मंत्री के साथ रथ पर सवार हो अपने राज्य में भ्रमण के लिए जा रहा था। कुछ दूर जाने पर उसने एक किसान को देखा। वह किसान अपनी पत्नी व बच्चों के साथ बड़े आनंद में था। मानो उसका जीवन संगीत से भरा हो। परिवार के सारे…

विचार जीवन बनाता है।

बुद्ध के स्वर्णिम वचन हैं – आपका हर विचार आपका जीवन बनाता है। आप अपने विचारों पर ध्यान दें क्योंकि आपके विचारों से ही आपके जीवन का निर्माण होता है। एक कुंभार चाक पर मिट्टी को रौंद रहा था। उसकी पत्नी आई पत्नी ने पूछा क्या बना रहे हो ? कुंभार ने जवाब दिया –…